न्यायकर्मी

जिला दर्शन जालोर

जहूरा राम भाटी जहूरा राम भाटी
प्रोटोकॉल ऑफिसर जिला अध्यक्ष

इतिहास

मूल और इतिहास -
जालोर जिले या तत्कालीन जबलपुर ने महर्षि जाबालि के पवित्र नाले से अपना नाम प्राप्त किया। जिला मुख्यालय को जालोर के नाम से जाना जाता है। जालोर जिले के इतिहास के अनुसार, पृथ्वीराज नरेश नागभट्ट द्वितीय ने अपने राज्य के दायरे को अरब सागर से बंगाल की खाड़ी तक विस्तारित किया। तीन मुख्य नगर जालोर, भीनमाल और सांचोर पर पृथ्वीहार, परमार, चालुक्य, चौहान, पठान मुगल और राठौर राजवंशों का शासन था। आजादी से पहले जालोर जिला जोधपुर प्रांत (मारवाड़) का एक हिस्सा था। प्रशासनिक रूप से इसे हुकुमतों के तीन परगनाओं- जालोर जसवंतपुरा और सांचोर में रखा गया था। इतिहास 30 मार्च 1949 को लिखा गया था जब राजस्थान लागू हुआ था और तब जोधपुर प्रांत को इसमें शामिल किया गया था और परिणामस्वरूप जालोर जोधपुर प्रांत का हिस्सा बन गया था। जब विभिन्न जिलों को जालोर बनाया गया तो उन्होंने भी इस दृश्य पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई और इसे आज के जिले में बनाया गया। समय बीतने के साथ ही कंचनगिरि और स्वर्णजीरी पर्वत का नाम भी अक्सर जालोर के नामों के रूप में इस्तेमाल किया जाने लगा। उध्योथन सुरी के कुवलयमाना से यह स्पष्ट है कि 8 वीं शताब्दी ईस्वी में यह एक समृद्ध नगर था। उस समय प्रतिहार राजा वत्स राजा शासक थे। 12 वीं शताब्दी ई। के अंत में परमार ने इस क्षेत्र पर शासन किया।

जिला एवं सत्र न्यायालय जालोर 01.07.1977 को स्थापित किया गया था। इससे पहले जालोर जिले में कार्यरत सभी न्यायिक न्यायालय बालोतरा न्यायाधीश के अधीन थे।

 जालोर न्यायलय 4 न्यायालय परिसर: -

क्र.सं. नाम हेड क्वार्टर से कोर्ट कॉम्प्लेक्स की दूरी

1 जालोर -

2 भीनमाल 72 कि.मी.

3 रानीवाड़ा 112 कि.मी.

4 सांचोर 159 किलोमीटर

 

कर्मचारियों के स्वीकृत पद 260
पदस्थापित कर्मचारी 131
कर्मचारियों के रिक्त पद 129
जिले मे स्थापित न्यायालय 16

न्यायिक कर्मचारी

क्रम पद स्वीकृत पदस्थापित रिक्त
1 प्रोटोकॉल ऑफिसर 01 00 01
2 वरिष्ठ मुंसरिम 03 01 02
3 कार्यकारी अधिकारी 01 00 01
4 स्टेनो ग्रेड-प्रथम 05 03 02
5 स्टेनो ग्रेड द्वितीय 06 02 04
6 स्टेनो ग्रेड-तृतीय 05 02 03
7 स्टेनो अंग्रेजी 01 00 01
8 कार्यालय सहायक 01 01 00
9 शेरिस्तेदार ग्रेड प्रथम 02 02 00
10 शेरिस्तेदार ग्रेड द्वितीय 05 05 00
11 शेरिस्तेदार ग्रेड तृतीय 04 04 00
12 रीडर ग्रेड-प्रथम 05 05 00
13 रीडर ग्रेड-द्वितीय 06 06 00
14 रीडर ग्रेड-तृतीय 05 05 00
15 लिपिक ग्रेड-प्रथम 17 17 00
16 लिपिक ग्रेड-द्वितीय 66 35 31
17 वाहन चालक 04 02 02
18 तामील कुनिन्दा 26 16 10
19 जमादार 01 01 00
20 सहायक कर्मचारी 91 23 68
योग 255 128 127

गैर न्यायिक कर्मचारी

क्रम पद स्वीकृत पदस्थापित रिक्त
1 सहायक लेखाधिकारी द्वितीय 01 01 00
2 कनिष्ठ लेखाकार 01 00 01
3 सूचना सहायक 03 00 03
योग 05 01 04
  स्वीकृत पदस्थापित रिक्त
न्यायिक कर्मचारीयों का योग 255 128 127
गैर न्यायिक कर्मचारीयों का योग 005 001 004
कुल योग 260 129 131